2022 Best Hindi Poems

पहाड़ी जीवन पर कविता | Poem On mountain life in Hindi

 पहाड़ी जीवन

हम पहाड़ पर रहते हैं
देवदार की बाँह यहाँ
करती शीतल शांह यहाँ

भेड़ें चरती है घाटी में
झर झर झरने बहते हैं
हम पहाड़ पर रहते हैं

जगह जगह फैला वन है
सीधा सादा जीवन है

कभी कष्ट भी आन पड़े तो
हंसकर के हम सहते हैं
हम पहाड़ पर रहते हैं

हम मेलों में जाते हैं
झूम झूमकर गाते हैं
सबकी बातें सुनते हैं हम
सबसे अपनी कहते हैं
हम पहाड़ पर रहते हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें