2022 Best Hindi Poems

भगवान पर कविता | Poem on God in Hindi

 ओ मेरे अच्छे भगवान " बालकृष्ण गर्ग"

ओ मेरे अच्छे भगवान !
मम्मी पापा मुझे न मारें
और न ही डांटे फटकारें
मेरी करतूतों पर अब वे
कभी न खींचे मेरे कान
दे दे बस ऐसा वरदान

ओ मेरे अच्छे भगवान
चले सदा मेरी मनमानी
खेल कूद ऊधम शैतानी
कोसों दूर रहूँ पढने से
फिर भी बन जाऊं विद्वान्
दे दे बस ऐसा वरदान

ओ मेरे अच्छे भगवान
बिस्कुट चाकलेट औ टॉफी
महंगे होते जाते काफी
मेरे घर के गमलों में ये
उगा करें अब कृपानिधान
दे दे बस ऐसा वरदान

ओ मेरे अच्छे भगवान
जल्दी खूब बड़ा हो जाऊ
छोटों पर फिर रोब जमाऊं
घर में अपना भी हो भगवन्
मम्मी पापा सा सम्मान
दे दे बस ऐसा वरदान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें